Cryptocurrency Investing For Beginners । Cryptocurrency Mein Kaise Invest Karen 2022

Share this post

तो दोस्तों जब कोई चीज का कमन होना स्टार्ट हो जाता है । तो आम आदमी को इंटरेस्टिंग लगना चालू हो जाता है । इसलिए मैंने भी इसके बारे में पढ़ना शुरू किया crypto currency Mein invest kaise karen , Bitcoin kya hai, crypto currency kya hai per ismein Kaise invest kar sakte hain , crypto currency se Paisa Kaise kamae itne sare sab kuchh ke bare me .

इस फ्यूचर के रेगुलेशन के बारे में , ए फ्यूचर की क्रांति क्रांति कारी blockchain technology समझना शुरू किया peer to peer network , crypto currency इन चीजों के बारे में मैंने भी जानना स्टार्ट कर दिया दोस्तों । बहुत दिन से मानता दोस्तों की इस चीज को भी आपके सामने पेश करो ।

अगर दोस्तों हमारी बातें आपको समझ में नहीं आए होंगे तो आप सबसे आखिर में जाकर youtube video देख सकते हैं ताकि आपको डिटेल्स में समझ में नहीं में आसानी हो ।

तो इस पोस्ट में एक सिंपल तरीके से हम लोग बताने वाला है की ऐसा सिंपल तरीका जो एक छोटा बच्चा भी समझ जाए आपको बताने वाला हूं crypto currency kya hota Hai ? Kya hai blockchain ? Kaise kam karta ? इनके प्राइजेस ऊपर नीचे कैसे होता है ? Miner kya hai ? mining kya hai ?

India Mein cryptocurrency Kitna legal hai ? cryptocurrency mein trade kaise karen or invest kaise karen ? हर चीज सिंपल भाषा में आपके सामने एक्सप्लेन करने वाला हूं दोस्तों ।

cryptocurrency mein kaise invest karen

investing in cryptocurrency for beginners, start investing in crypto, cryptocurrency mein kaise invest karen, cryptocurrency investing for beginners, cryptocurrency mein invest kaise karen, crypto invest in Hindi, cryptocurrency investing for beginners, best cryptocurrency to invest in 2022, cryptocurrency to invest in 2022, cryptocurrency mein trade kaise karen, cryptocurrency mein nivesh kaise karen,
cryptocurrency investing for beginners

तो दोस्तों आप को समझने के लिए हम लोग लेते हैं जिसमें एक सिंपल ए स्टोरी लेते हैं । इसमें दो दोस्त रहता है एक का नाम है राज उसका दूसरा का नाम है बजाज ।
राज ने बजाज से ₹10 का काम कराया और उसे ₹10 देने की उसके बदले ₹10 का टोपी दे दिया । राज और बजाज ने सोचा की चीजें सिंपल रहे । हिसाब आसाम रहे और कोई तकलीफ ना हो। और आजकल जमाना डिजिटल है कल क्या अगर हम लोग बहुत दूर रहे तब भी हमारा काम चल सके । ऐसा जरूरी नहीं है कि हम लोग हर टाइम पास ही हो ।


उसके बाद उस दोनों ने सोचता है हम लोग इस टॉपिक को डिजिटल कर लेते हैं । एक डिजिटल टॉफी बना लेते हैं । टॉफी की डिजिटल फरसन तो बना लेंगे लेकिन यहां पर एक प्रॉब्लम आ सकती है । क्योंकि ए डिजिटल है कोई भी कॉपी पेस्ट कर सकता है और ज्यादा से ज्यादा बना सकता है कर सकते हैं । इसको कोई भी मल्टीप्लाई कर सकता है । ई-मेल में अटैच करके लाखों लोगों को भेज सकता । 1 का 100 भी बना सकता है ।

इसके लिए इस दोनों ने सोचा है कि जैसे राज ने बाजार को एक डिजिटल टॉफी दिया । तो इसको एक कंप्यूटर में डॉक्यूमेंट की तरह स्टोर करके एक्सल शीट में रख देगा । और इसको डॉक्यूमेंट में स्टोर करके रख दिया जाए कि राज ने बजाज को एक टोपी दी । इस हिसाब रखने वाली डॉक्यूमेंट को कहती है ledger document for crypto currency

इसके बाद भी एक दिक्कत आ जाती है । ledger document एक आदमी ही मेंटेन करता है । हो चाहे तो 1 का 10 भी लिख सकता है । आदमी इसको लेकर कुछ भी कर सकता है इसके ध्यान में रखते हुए । यहां पर एक क्रांतिकारी सलूशन लेकर आया सभी लोगों ने । क्या यह ledger document हार कंप्यूटर में सेव डॉक्यूमेंट सेम टाइम में स्टार्ट होते रहेगा । हर कंप्यूटर में इस पर होने लग जाएगा total crypto purchase count स्टार होते रहेगा ।
राज के पास कितने डिजिटल करेंसी थे और उसने बजाज को कितना करेंसी दिया है यह सारा डाटा सेम टू सेम हर कंप्यूटर में स्टोर होते रहेगा ।

Crypto currency kya hai ?

तो सारे एग्जांपल इसी के साथ हम लोग एक्सप्लेन करने वाला है जो मैंने डिजिटल टॉप बताया । जो दोनों आदमी के साथ एक चेंज किया ओ एक तरह की investing in cryptocurrency for beginners है ।
Crypto मतलब सीक्रेट ।
Currency का मतलब गुड और सर्विस करने का माध्यम जैसे हम रुपया भी कहते हैं जिसे हर चीज खरीदा जा सके ।
तो एक सिगरेट करंसी एक प्राइवेट Currency है । जैसे कि आपने बहुत तरक्की crypto currency ka naam Suna bhi hoga Bitcoin , ethereum, rimple, dogecoin । तो इतने सारे गिफ्ट करेंसी को मेंटेन करने के लिए जो पब्लिक कंप्यूटर सर्विस पर लिया जाता है जिसको Ledger बोलता है उसी को एक साथ Peer To Peer Network भी बोलता है । एनी पर्सन टो पर्सन नेटवर्क । केसरी लोग मिलकर इस blockchain system को अंजाम देता है ।

Blockchain System Kya Hai

blockchain system 2 words से मिलकर बनाया गया है block or chain । ब्लॉक ki utxo based blockchains eco system को समझने के लिए मैं एग्जांपल लेता हूं जैसे समझ लीजिए मालगाड़ी ट्रेन । जैसे यह डब्बा भर जाता है दूसरा और लगा दिया जाता है वह भी भर जाता है उसका पीछे और एक लगा दिया जाता है ऐसे ही जितने डिब्बे की जरूरत होता है पूरा माल भरने के लिए इतना सारा एक के पीछे एक लगा दी जाती है ।
इसी तरह से utxo based blockchains काम करता है । एक ब्लॉक पर पूरा भर जाता है तो दूसरे ब्लॉक पर चला जाता है और सारे सिस्टम एक के साथ एक कनेक्टेड रहता है ।

यह blockchain system सिर्फ एक कंप्यूटर में नहीं केसरी कंप्यूटर की तरह चलाया जाता है ताकि कोई गड़बड़ या कोई घोटाला नहीं कर सके । ऐसे में कोई चीट कारना चाहे कोई फरड करना चाहे वह जल्द से जल्द पकड़ा जाए ।

तो मान लीजिए दोस्तों राज और बजाज दोनों के पास गिफ्ट करेंसी है । राज के पास दो बिटकॉइन है उसमें से एक बिटकॉइन बजाज को दिया ‌। तब यह सारे कंप्यूटर काम पर लग जाता है । फटाफट चेक करने लग जाता है कि राज के पास सच में कितने बिटकॉइन है । और बजाज के पास कितना बिटकॉइन था और ए ऐड होने के बाद कितना रहेगा सारे कुछ हिसाब सेकंड के अंदर हो जाता है । यही है टेक्नोलॉजी multi party system blockchain

Cryptocurrency Data Mining Or Minor kya hai ?

तो जो भी लोग इस Public Ledger इसको मेंटेन कर रहा है और इसके responsibility ले रहा है । इन सारे सिस्टम को जो लोग हैंडल करते हैं उनको कहते हैं cryptocurrency miner। और इन सारे प्रोसेस को ट्रांजैक्शन मेंटेन और सारे सिस्टम को कहते हैं Cryptocurrency mining । इसके लिए किसी को बैठकर इतने सारे काम करने की जरूरत नहीं है ऑटोमेटिक आफ सिस्टमैटिक सिस्टम से हो जाता है । लेकिन दोस्तों इस के लिए स्पेशल कंप्यूटर रहता है स्पेशल सॉफ्टवेयर की जरूरत पड़ता है और इस प्रोसेस में माइनिंग में जो टाइम इन भर्ल्ड होता है । जो पैसा इन भर्ल्ड होता है । इसके बदले मैं Cryptocurrency Miner को उसी करेंसी में kuchh reward मिलता है ।
तो दोस्तों आप आप लोग कहोगे कि यह तो समझ में आ गया की Bitcoin एक private digital currency है ।

अगर दोस्तों पर की सारी बातें आपको समझ में आई है तो चलिए और आगे बढ़ते हैं आप अब आपके इस सवाल होंगे कि मैंने तो डिजिटल करेंसी में इन्वेस्ट किया है तो हर डाटा सारे कंप्यूटर में स्टोर रहेगा तो मेरे पास कितना पैसा है और दूसरे लोगों पास कितना पैसा है यह तो सब लोग को को आसानी से देखने को मिल जाएगा इसके लिए भी एक solution से लेकर आया गया है ।

तो एहि पर आता है जब तक हम से का Cryptocurrency pillar । और उसका नाम है Cryptography
cryptography का मतलब सब कुछ graphical coding । उनसे सिस्टम के अंदर किसी का नाम दूसरा किसी को पता नहीं चलेगा लेकिन हां डिमैट अकाउंट से दूसरे डिमैट अकाउंट में कितना crypto currency बाय सेल हुआ है कोई पता चल जाएगा । और यही है सबसे बड़ा कारण cryptocurrency invest करने का । और इसका भर्ती popularity का । तो कुछ लोग के प्रॉब्लम के जब हमारे पैसे थे तो इसका कंट्रोल परसों का हाथ में कैसे दे दो । Banks के हाथ में क्यों दूं authority or agency हाथ में क्यों हु ।

cryptocurrency mein nivesh kaise karen

गवर्नमेंट जॉब जाए inflation बढ़ा दी घटा दी । रुपए के value कम हो गए डॉलर की value बढ़ गए दुसरा डॉलर की value कम हो गए तो पैसे की value भर गया ऐसा चलता रहता है ।
इस तरह की चीजों से लोगों की प्रॉब्लम थी । ऐसा क्यों नहीं हो सकता है Carrency Decentralized हो जाए । इसमें किसी एक का कंट्रोल ना हो । जब Carrency सब की है तब कंट्रोल भी सब का ही होना चाहिए ।

मेरे पास कितना पैसा है दूसरे लोगों को नहीं पता होना चाहिए । Bank ko को कैसे पता होगा दूसरा कोई ट्रेडर को क्यों बताऊंगा मेरे पास कितना पैसा है। कैसरी पाठ इसको क्यों पता हो ।
दोस्तों जब भी पॉइंट है की एक पर्सन इस को कंट्रोल नहीं कर रहा है तो इसका प्राइस कैसे डिसाइड होता है । तो फिर यह कैसे सुनने में आता है कि आज Bitcoin का भाव बहुत गिर गया है कल Bitcoin बहुत ऊपर चला गया है यह कैसे डिसाइड होता है ।

तो दोस्तों यहां पर आपको हम लोग बता देता हूं यहां पर crypto currency me पहले से डिफाइंड किया जाता है टोटल कितना करेंसी है अभी के टाइम पर । जब कोई चीज फिक्स होती है जब कोई चीज लिमिटेड होता है । और उसको खरीदने वाला लोग बहुत ज्यादा होती है । तब उस चीज का भाव बहुत तेजी से बढ़ता है ।

चलिए दोस्तों एग्जांपल ले लेते एक जमीन का टुकड़ा । ओ उ एक fixed जमीन है । जब उस जमीन को खरीदने वाला लोग बहुत ज्यादा हो जाएगा तब जमीन के मालिक उस जमीन का भाव बहुत तेजी से भराएगा और हर आदमी को बोलेगा कि मैं अपना जमीन इतने में भेजूंगा इतने में भेजूंगा । ऐसी बात अगर उस जमीन को कोई ज्यादा भाव नहीं दे रहा है और उसको खरीदने वाला कोई नहीं मिल रहा है तो जमीन को मालिक का अपने जमीन का भाव कम करना पड़ेगा तभी दूसरा लोग उस जमीन को खरीदने आ सकता है । मुझे उम्मीद है इस एग्जांपल में आप समझ गए होंगे ।

इसी तरह से ही दोस्तों crypto invest in Hindi डिमांड आ रही है दोस्तों तो उसका प्राइस बहुत तेजी से बढ़ जाता है ।
तो दोस्तों Bitcoin की सप्लाई भी लिमिटेड है । लगभग 21 मिलियन की बिटकॉइन pura world mein available है ।
2010 में बिटकॉइन का भाव था ₹20 । आते आते और इसका प्राइस बहुत भरते भरते जैसे ही टाइम बढ़ता गया और आम आदमी को इसके बारे में जानकारी मिलती गई एक टाइम पर तो Bitcoin market price लगभग 40 से 45lakh तक चला गया था । आज के टाइम पर के लगभग 30 लाख तक आ चुका है ‌‌।
मतलब दोस्तों अगर आपने या किसी ने 2010 में बिटकॉइन में ₹100 अगर लगाया होता तो आज के टाइम पर उसके पास 1.5cr रुपया होता ।

क्रिप्टो करेंसी के पाइप प्राइस इस बात पर भी डिपेंड करती है की न्यूज़ क्या है कंपनी क्या प्लान कर रही है । और बड़ा बड़ा इन्वेस्ट अभी क्या प्लान कर रहा है ।
जैसे Elon Musk ne March 2021 मैं कहा था की इलेक्ट्रिक कार खरीदने के लिए अब बिटकॉइन मैं भी पेमेंट किया जाएगा । इसी tweet के चलते बिटकॉइन का प्राइस बहुत तेजी से ऊपर चला गया था । और लोगों ने सोचा कि अब आने वाले टाइम में बिटकॉइन का डिमांड बहुत बढ़ने वाला था इसी वजह से बहुत सारे इन्वेस्टर ने बहुत तेजी से बिटकॉइन खरीदना शुरू कर दिया था ।
लेकिन दोस्तों उसी का 2 महीने के बाद Elon marks ने फिर से Tweet किया की Bitcoin se Tesla car नहीं खरीद सकते आप लोग । इसे ट्वीट के बाद लोगों ने फिर से बिट कॉइन सेल करना स्टार्ट कर दिया जहां पर एक बिटकॉइन की प्राइस लगभग $60000 पहुंच गया था वहीं पर कुछ ही दिनों के अंदर यह प्राइस लगभग आधा होकर $30000 तक पहुंच चुका ।

Advantages of cryptocurrency

1) cryptocurrency फायदे की बात करें तो दोस्तों यह नंबर वन Decentralized hai । कोई एक कंट्री को एक गवर्नमेंट इसको कंट्रोल नहीं कर रहा है यह पूरी दुनिया के लिए खुला है जो चाहे इसमें इन्वेस्ट कर सकते हैं ।
2) no government controls कैसे देश के कंट्रोल में यह काम नहीं करता है यह काम करता है मार्केट डिमांड एंड सप्लाई के विशेष पर ।

Disadvantages of cryptocurrency

1) तो दोस्तों इसका Disadvantages की बात करें तो no Government and authorised । इसको कोई देश की सरकार नहीं चला रही है । अगर कोई प्रॉब्लम आती है अगर कोई आपकी कंप्लेंट करनी है तो आप किसके पास जाओगे । यह किसी एक के कंट्रोल में नहीं है । इसका फायदा आपको है तो उसका नुकसान भी आपको ही होगा ।
2) क्योंकि यह सीक्रेट करेंसी है तो खराब लोग इसे unhetical use mein ले सकता है ।
3) mining का जो पैसे से यह कोई eco friendly process नहीं है |

मुझे उम्मीद है दोस्तों आपको हमारी यह पोस्ट cryptocurrency mein nivesh kaise karen अच्छी लगी है अगर दूसरा कोई भी सवाल है तो जरूर नीचे कॉमन कीजिए और हमारा एक पोस्ट अच्छी लगी है तो जरूर अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिए ।


Share this post

Leave a Comment

x